Home > Blog > Uncategorized > चिमनी vs. एग्जॉस्ट फैन: जानिए कौन आपके किचन को अधिक साफ़ रखता है

चिमनी vs. एग्जॉस्ट फैन: जानिए कौन आपके किचन को अधिक साफ़ रखता है

भारतीय रसोईघर लज़ीज़ जायकों और विभिन्न किस्म के पकवानो का संगम स्थल है। भारतीय व्यंजन अक्सर तेल, घी की अधिक मात्रा में पकाये जाते है। भारतीय मसालों के बिना कोई भी रेसिपी लज़ीज़ नहीं बन सकती। ऐसे में बस एक हल्का सा छौंक या एक परांठा आपकी किचन को धुएं से भरने के लिए काफी है। इस धुएं में तेल या घी के कण होते हैं जो किचन की दीवारों और अलमारियों में जम कर उन्हें चिकना, काला या पीला कर देते हैं। ऐसे में किचन में एक बेहद जरूरी चीज की जरूरत है: चिमनी या एग्जॉस्ट फैन।


एग्जॉस्ट फैन आम तौर पर हर घर की किचन में लगे देखे जा सकते हैं। यह किचन में उठ रहे धुएं या गंध को बाहर निकलते हैं। परन्तु ये इतने प्रभावशाली नहीं होते हैं। सामान्य धुएं या भोजन की गंध को तो ये आसानी से बाहर निकाल सकते हैं मगर जब परांठा बनाते या तड़का लगाते समय तेल, घी के भरी कण उठते हैं, तब एग्जॉस्ट फैन अमूमन फेल हो जाते हैं। और यही तेल, घी के कण किचन की दीवारों या दूसरे कमरों में रखे सामान पर जम जाते हैं।


आजकल चिमनी का प्रयोग किचन में अधिक हो रहा है। चिमनी एग्जॉस्ट फैन के मुकाबले अधिक प्रभावशाली है। गैस स्टोव के बिलकुल ऊपर लगे होने तथा बेहतर सक्शन प्रेशर के कारण ये धुएं तथा अन्य कणों को आसानी से बाहर निकाल देती है। जिससे किचन की दीवारें या अन्य सामान गन्दा होने से बच जाता है।
मगर एक बात जानना बेहतर जरूरी है कि अगर एग्जॉस्ट फैन और चिमनी का प्रयोग सही समय पर अलग अलग तरीके से किये जाये तो ये किचन को पूर्ण रूप से धुआं एवं गंध रहित रखने में सहायता कर सकते हैं। खाना बनाते समय अक्सर हल्का धुआं या गंध चिमनी से बच कर रसोई में फैल जाते हैं। चिमनी आम तौर पर बेहद नीचे लगी होती है। ये कण हलके होने के कारण बड़ी तेजी से किचन की छत की और भागते हैं और वहां जमने लगते हैं। ऐसे में अगर एग्जॉस्ट फैन दिवार के ऊपर वाले हिस्से में लगा हो तो वो आसानी से इन कणों को बाहर धकेल सकता है। चपाती बनाते समय उठने वाली गंध बाहर निकलने के लिए एग्जॉस्ट फैन चिमनी से बेहतर विकल्प है।
चिमनी का प्रयोग तभी करें जब आप तेल या घी में कुछ पका रहे हैं। अन्यथा आप एग्जॉस्ट फैन का प्रयोग भी कर सकते हैं। चिमनी प्रभावशाली तो है मगर इसकी कुछ कमियों को भी नकारा नहीं जा सकता। अधिक सक्शन प्रेशर होने से चिमनी बहुत अधिक शोर उत्पन करती है जिसे आप अधिक समय तक सहन नहीं कर सकते। दूसरा, चिमनी के प्रयोग से बिजली की खपत भी एग्जॉस्ट फैन के मुकाबले अधिक होती है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: