Home > Blog > Story

दोस्तों की दुनियादारी

दोस्ती लाजवाब है। दोस्ती है तो सब दुरुस्त है। मिल बैठ कर खा पी लेते हैं। एक चिल्ली चिकन का पीस दर पीस चटनी में डूब कर इतना भी मज़ा न देता अगर दोस्त न होते। किसी को घर जाने की जल्दी हो या बाजार …

गोवा का जुगाड़

धूप भले ही तीखी हो मगर सुबह शाम की ठण्ड गज़ब है। बर्फ से लवरेज़ पहाड़ यूँ तो दिसम्बर में न दिखे कभी। अच्छा भी है, बर्फ टिकी रहेगी। सूरज के पश्चिम पलायन के साथ ही सर्द हवाओं का दब-दबा शुरू हो जाता है। चार …

हाफ प्लेट चोमन !

आलू-छोले की एक प्लेट का ज़ायका लाजवाब था। दिन भर परात में पड़े स्टोव की मंद आंच पर कढ़ते रहते। बीच-बीच में लाला जी कड़छी से हिलाते और थोड़ा सा पानी मिलाते । परात की सजावट अदभुत थी। आधी परात में आलू का पहाड़ खड़ा …

Headline vs ADline

ख़बरें आती जाती रहेंगी। खबर छप कर कुछ घंटों बाद इतिहास बन जाती है। समाचार पत्रों का उनके गर्भावस्था से आपके दरवाजे तक पहुँचने का कार्यकाल और उनका उम्रकाल बस कुछ ही घंटों का होता है। एक नज़र डाल कर आप उसे रद्दी घोषित कर …

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता-मेरा भारत महान

ख़बरें आती जाती रहेंगी। खबर छप कर कुछ घंटों बाद इतिहास बन जाती है। समाचार पत्रों का उनके गर्भावस्था से आपके दरवाजे तक पहुँचने का कार्यकाल और उनका उम्रकाल बस कुछ ही घंटों का होता है। एक नज़र डाल कर आप उसे रद्दी घोषित कर …