Home > Blog

इंडिया टुडे?

शब्द अब उड़ने लगे हैं। पहले भी उड़ते थे शायद जब कालिदास के ‘मेघदूतम’ का यक्ष मेघों के माध्यम से अपनी प्रेयसी को सन्देश भेजा करता था। शब्द फिर चलने लगे थे। दिल्ली, मुंबई के प्रकाशन घरों से छप कर पत्र-पत्रिकाएं रेलगाड़ियों और बसों से …

स्त्री का रुमाल छोटा क्यों?

आज यूँ ही कहीं बैठे बैठे एक अधेड़ उम्र की महिला की तरफ ध्यान गया। मोहतरमा शायद (या पक्का!) फेसबुक के वीडियो देखने में मशगूल थीं। वीडियो दर वीडियो खंगाले जा रहे थे। स्क्रीन तो न दीख पड़ती मगर आवाज़ का वॉल्यूम सब बयां कर …

टी-स्पून VS. टेबल-स्पून : जानिए क्या है दोनों में अंतर!

चम्मच हमारी रसोई का एक अहम हिस्सा है। चम्मच का इस्तेमाल हम रोज़ाना ज़िंदगी में करते हैं। शायद ही कोई दिन हो जब हम चम्मच का प्रयोग न करें। खाने से लेकर और दाल-सब्ज़ी में नमक या मसाला डालने के लिए चम्मच का प्रयोग होता …

फ़िल्मी सितारों का कैमरा प्रेम और चकाचौंध की दुनिया

फ़िल्मी सितारों का कैमरा प्रेम और चकाचौंध की दुनिया। प्रियंका चोपड़ा, राधिका आप्टे, नोरा फतेही आदि आदि.

चिमनी vs. एग्जॉस्ट फैन: जानिए कौन आपके किचन को अधिक साफ़ रखता है

भारतीय रसोईघर लज़ीज़ जायकों और विभिन्न किस्म के पकवानो का संगम स्थल है। भारतीय व्यंजन अक्सर तेल, घी की अधिक मात्रा में पकाये जाते है। भारतीय मसालों के बिना कोई भी रेसिपी लज़ीज़ नहीं बन सकती। ऐसे में बस एक हल्का सा छौंक या एक …

अमरीका से इंजिनीयरिंग कर के लौटे एक लौंडे की डायरी से साभार

…और बुधिया को भी प्यार हो गया। ‘एलिजबेथ’ (एलज़ाबेथ/Elizabeth) तो पहले ही बुधिया पर सर्वस्व न्यौछावर कर चुकी थी। गाँव का बुधिया ‘स्टेट्स’ (अमेरिका /US) का वीज़ा हाथ में थामे था। ‘डॉनल्ड ट्रंप’ (डोनाल्ड ट्रम्प/Donald Trump) चाह कर भी बुधिया को आने से नहीं रोक …